Social Justice

विद्यार्थी हेतु योजनाऐं

योजना का नाम योजना की जानकारी लाभान्वित हेतु योग्यता संबंधित अधिकारी संपर्क सू़त्र
उत्तर मैट्रिक छात्रवृति अनुसूचितजाति/जनजाति/विशेष पिछडा वर्ग /आर्थिक पिछडा वर्ग/अन्य पिछडा वर्ग के (बीपीएल/विकलांग/विधवा महिला/तलाकसुदा महिला) ऐसे विधर्थी जिनके मातापिता/संरक्षक की वार्षिक आय 2.50 लाख से व आर्थिक पिछडा वर्ग एवं अन्य पिछडा वर्ग में 1 लाख तक हो उन विधार्थी को उत्तर मेट्रिक छात्रवृति दी जाती है

छात्र व छात्राऐं जो राजकीय/मान्यता प्राप्त शिक्षण संस्थान में मान्यता प्राप्त पाठयक्रम में नियमित अध्ययनरत हो एवं राजस्थान की मूल निवासी हो । जिला परिवीक्षा एवं समाज कल्याण अधिकारी
05642- 240878
छात्रावास
छात्रावास योजना में निःशुल्क आवास योजना , स्कूल, पोशाक, आदि की सुविधाऐं छात्रावास के छात्रों की ही मैस कमेटी के माध्यम से शैक्षणिक सत्र तक के लिऐ 1900रू प्रतिमाह राशि दी जाती है। विभाग द्वारा अनुसूचितजाति/जनजाति/विशेष पिछडा वर्ग /आर्थिक पिछडा वर्ग/अन्य पिछडा वर्ग के बीपीएल छात्र जो गरीबी एवं पिछडेपन तथा दूरी के कारण शिक्षा से बंचित गरीब परिवारो के बालक/बालिकाऐं हो।
अनुप्रति योजना
अनुप्रति योजना में आईएएस के लिऐ 1 लाख एवं आरएएस के लिऐ 50 हजार रू की प्रात्साहन राशि दी जाती है। आईआईटी, आईआईएम, राष्ट्रिय स्तर के मडिकल कॉलेज में प्रवेश होने पर 40 से 50हजार तक एक मुश्तराशि दी जाने का प्रावधान है। ऐसे विधार्थी जो 10+2 में 60 प्रतिशत से अधिक अंक प्राप्त करने के साथ इंजीनियरिंग/मेडीकल कालेज में प्रवेश होन पर एकमुश्त 10 हजार रू के अनुदान का प्रावधान है। अनुसूचितजाति/जनजाति/विशेष पिछडा वर्ग/सामान्य वर्ग/अन्य पिछडा वर्ग के बीपीएल छात्र हो तथा राजस्थान का मूल निवासी हो। उसके परिवार की वार्षिक आय 2 लाख रू से अधिक ना हो।

 

वृद्धजनों हेतु योजनाऐं

योजना का नाम योजना की जानकारी लाभान्वित हेतु योग्यता संबंधित अधिकारी संपर्क सू़त्र
वृद्वावस्था पेंशन
योजना में पुरूष की आयु 58 वर्ष एवं महिला की आयु 55 वर्ष होनी चाहिऐ तथा 75 वर्ष से कम आयु की व्यक्तियों को 500 रू प्रतिमाह एवं 75 वर्ष से अधिक आयु के व्यक्तियों को 750 रू प्रतिमाह देने का प्रावधान है। पेंशन हेतु ग्रामीण विकास अधिकारी पंचायत समिति में फार्म भरकर जमा करा सकता है एवं शहरी उपखण्ड अधिकारी कार्यालय में फार्म जमा करा सकते है। व्यक्ति राजस्थान का मूल निवासी हो। जीवन निर्वाह करने के लिऐ आय को कोई स्त्रोत नही हो। उसके परिवार को कोई भी व्यक्ति कमाने वाले नहीं होना चाहिऐ।

जिला परिवीक्षा एवं सामाज कल्याण अधिकारी
05642- 240878
वृ़द्वाश्रम
वृद् को वृद्श्रम में भर्ती कर उसके रहने खाने पीने की सभी सुविधाऐ दी जाती है। वृद् को कोई भी कमाउ पुत्र नहीं हो या होते उसकी देखभाल नहीं करते हो और कोई भी बेसहारा बृद् जिसके पुत्र उसकी देखभाल नहीं कर रहे है।

 

महिलाओं अथवा बालकों हेतु योजनाऐं

योजना का नाम योजना की जानकारी लाभान्वित हेतु योग्यता संबंधित अधिकारी संपर्क सू़त्र फॉर्म
पालनहार यह योजना राजस्थान सरकार द्वारा 0-18 वर्ष तक के विशेष देखभाल के लिए इसके तहत आने वाले बच्चो के पालन पोषण की व्यवस्था परिवार के किसी निकटतम व्यक्ति द्वारा किया जाता है। बच्चो की देखभाल करने वाले व्यक्ति को पालनहार कहा जाता है। इस योजना में 0-6 वर्ष के बच्चे को 500रू प्रतिमाह एवं 6-18 वर्ष के लिए 1000 रू प्रतिमाह तथा 2000 रू वार्षिक एकमुश्त देय भी है।

निराश्रित पेंशन की पात्र विधवा के तीन बच्चेहोे , अनाथ सभी बच्चे, पुनर्विवाहित विधवा के सभी बच्चे, विशेष योग्यजन के सभी बच्चे, तलाकशुदा महिला के सभी बच्चे ,कुष्ठ रोग से पीडित मातापिता के सभी बच्चे, एडस पीडित के सभी बच्चेा को एवं आजीवल कारावास प्राप्त माता पिता के बच्चे हो। जिला परिवीक्षा एवं सामाज कल्याण अधिकारी 05642- 240878 यहॉ क्लिक करें
मुख्यमंत्री हुनर विकास
इस योजनान्तर्गत विधार्थी को निःशुल्क शिक्षा देने का प्रावधान है। तथा इस तरह के सभी पाठ्यक्रमों को निशुल्क कराने का प्रावधान है। इस योजनान्तर्गत विधार्थी को निःशुल्क शिक्षा देने का प्रावधान है। तथा इस तरह के सभी पाठ्यक्रमों को निशुल्क कराने का प्रावधान है।
विधार्थी पालनहार योजना का लाभ ले चुका हो । विधार्थी 12बी पास करने के बाद केवल तकनीकी पाठयक्रम में पढाई कर रहा हो उसको इस योजना का लाभ दिया जाना संभव है।
 
वीपीएल पुत्री के विवाह पर अनुदान (सहयोग योजना) ऐसे परिवारो की कन्या की शादी होने पर 10 हजार रू दिये जाने का प्रावधान है यदि कन्या 10वी पास है तो 5 हजार अतिरिक्त व स्नातक है तो 10 हजार रू अतिरिक्त दिये जाने का प्रावधान है। अधिकतम दो कन्याओं की शादी के लिऐ ही दिया जा सकता है। सभी वर्गाें के परिवार जो बीपीएल कार्ड धारक है तथा उनकी पुत्री की शादी होनी हो। यहॉ क्लिक करें
विधवा की पुत्री के विवाह पर अनुदान ऐसी विधवा महिला की दो कन्याओं के विवाह पर प्रति विवाह 10 हजार रू की अनुुदान राशि दिया जाने का प्रावधान है। तथा महिला की वार्षिक आय 50 हजार से अधिक नही होनी चाहिऐं
ऐसी महिलाऐ जिनके पति की मृत्यू हो गई है तथा उसने पुनर्विवाह नही किया है जिसके 25 वर्ष या उससे अधिक आयु का कोई भी पुत्र परिवार में कमाने वाला नहीं हों यहॉ क्लिक करें
विधवा पुनर्विवाह उपहार योजना
विधवा महिला को समाज में पुनः स्थापित होने के लिऐ उसके पुनर्विवाह के लिऐ राजस्थान सरकार उसको 15 हजार रू की राशि देने का प्रावधान रखती है। महिला विधवा पेंशन का लाभ प्राप्त कर रहीं हो एवं उसके पति की आकस्मिक मृत्यू हो गई हो। महिला की उम्र 18-35 वर्ष होनी चाहिऐ यहॉ क्लिक करें

 

विशेष योग्यजन हेतु योजनाऐं

योजना का नाम योजना की जानकारी लाभान्वित हेतु योग्यता संबंधित अधिकारी संपर्क सू़त्र फॉर्म
छात्रवृति योजना कक्षा 1 से 4 तक 40रू, कक्षा 5 से 8 तक 50रू, कक्षा 9से प्रथव वर्ष डे स्कालर 150रू, हास्टलर 230रू तथा नेत्रहीन के लिये अतिरिक्त 100 रू, द्वितीय व तृतीय वर्ष डे स्कालर 230रू एवं हास्टलर 360रू एवं स्नातकोत्तर एवं प्रोफेशनल पाठ्यक्रम हेतु 320रू ,हॉस्टलर 750रू तथा नेत्रहीन के लिए अतिरिक्त 200 रू राजकीय एवं मान्यता प्राप्त शिक्षण     संस्थाओ में नियमित अध्ययनरत,   अभिभावक की वार्षिक आय 2 लाख रू     तक, अन्य किसी छात्रवृति योजना से       लाभ नहीं ले रहा हो जिला परिवीक्षा एवं सामाज कल्याण अधिकारी 05642- 240878 यहॉ क्लिक करें
सामजिक सुरक्षा पेंशन योजना
8वर्ष की आयु केलिए 250 रू एवं 75 से कम आयु के लिए 500 रू प्रतिमाह एवं 75 से अधिक आयु के लिए 750 रू प्रतिमाह

किसी भी आयु का हो ,परिवार की वार्षिक आय ग्रामीण के लिए 48 हजार व शहरी के लिए 60 हजार
 
आस्था कार्ड योजना संबन्धित विभाग द्वारा बीपीएल के समकक्ष सुविधाऐं परिवार में दो या अधिक विशेष योग्यजनो के 40प्रतिशत से अधिक निशक्त होने पर एवं परिवार की वार्षिक आयु 1.20 लाख से अधिक नहीं  
सुखद दाम्पत्य जीवन योजना 25 हजार प्रति व्यक्त् आर्थक सहायता
वर की आयु 21 वर्ष व वधू की आयु 18 वर्ष से अधिक होनेा आवश्यक , आवेदक के माता पिता एवं स्वयं के रोजगार नियोजित रहने की दशा में कुल वार्शिक आय 50हजार रू से अधिक ना हो युगल में से एक राजस्थान का विशेष योग्यजन हो

यहॉ क्लिक करें
संयुक्त सहायता योजना

कृत्रिम अंग/उपकरण के लिए प्रति व्यक्ति अधिकतम 6 हजार की आर्थक सहायता आवेदक का परिवार आयकर दाता ना हो
यहॉ क्लिक करें
पेंशन धारक हेतु एक मुश्त सहायता योजना
पैंशन के स्थान पर एकमुश्त 15 हजार रू मिलेगें। आवेदक विशेष योग्यजन पेंशन धारक होना आवश्यक एवं पेंशन बन्द कराने का विकल्प प्रस्तुत करना आवश्यक है।

 
अनुप्रति योजना (1) संघ लोक सेवा आयोग प्रशासनिक परीक्षा के लिऐ कुल 1लाख रू, प्रारम्भिक परीक्षा 65हजार, मुख्य परीक्षा 30हजार रू साक्षात्कार में चयन होने पर 5 हजार रू.  (2) राज लोक सेवा आयोग 0.50 लाख रू. प्रारम्भिक परीक्षा 25 हजार रू. मुख्य परीक्षा 20 हजार रू , साक्षात्कार में चयन पर 5 हजार रू (3) इंजीनियरिग व मेडिकल व शीर्ष संस्थाओं की दशा में 20-25 हजार , राज्य इंजीनियरिग व मेडिकल व शीर्ष संस्थाओ की दशा में 10 हजार रू. राष्ट्रीय व राज्य स्तर के इंजीनियरिग, मेडिकल, व शीर्ष शैक्षणिक संस्थाओं के माध्यम से आयोजित परीक्षा में उत्तीर्ण होना आवश्यक ,आवेदक का माता पिता राजकीय सेवा में ना हों, आवेदक के संरक्षक की आय 2 लाख से अधिक ना हो।  
मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना 5लाख रू तक ़़ऋण स्वीकृति ़ऋण का 50प्रतिशत या अधिकतम 50 हजार जो दोनेा में से कम हो बैक खाते के माध्यम से अनुदान सहायता दैय। आवेदक की आयु 18-55 के बीच होनी चाहिऐ, परिवार की आय 2 लाख तक होनी चाहिए,पूर्व में स्वरोजगार/राज्य की योजना में लाभान्वित नहीं, बैंक द्वारा आवेदक के पत्र में ऋण की स्वीकृति आवश्यक यहॉ क्लिक करें
पोलियो करेक्शन योजना
स्वयंसेवी संस्था को प्रति व्यक्ति आपरेसन 5 हजार राजकीय चिकित्सालय का 2हजार प्रति आपरेशन
केवल स्वेच्छिक संस्थाओ व राजकीय चिकित्सालयो के लिए , संस्था का निशक्त व्यक्ति अधिनियम 1995 की धारा 52 में पंजीकृत होना आवश्यक,संस्था का निशक्त पोलियो करेक्शन कर सक्षम बनाने हेतु पुनर्वास

 
शिक्षण पुर्नवास योजना
विभाग द्वारा देय स्वीकृत बजट राशि का 90 प्रतिशत
केवल स्वेच्छिक संस्थाओ हेतु, संस्था का निशक्त व्यक्ति अधिनियम 1995 की धारा 52 में पंजीकृत होना आवश्यक,शिक्षण,प्रशिक्षण,छात्रावास,आवासीय विद्यालय एवं मानसिक विमंदित पुनर्वास गृह संचालन करने वाली संस्थाऐं।

 
विशेष योग्यजनों के कल्याणार्थ प्रोत्साहन हेतु पुरस्कार योजना
विश्व विकलांग दिवस 3 दिसम्बर को दिये जाने का प्रावधान, राज्य बजट प्रावधान श्रेणी अनुसार प्ररस्कार राशि 5 से 10 हजार रू तक नगद राशि एवं प्रशस्ति पत्र
कार्यारत स्वयंसेवी संस्थाओ/नियोजित/विशेष योग्यजन व्यक्ति/श्रेष्ठ समाजसेवी , राज्य स्तरीय पुरस्कार चयन समिति द्वारा चयन आवश्यक

 
मानसिक विमन्दित गृह ऐसे बच्चों के पुनर्वास के लिऐ स्वयंसेवी संस्थाओं द्वारा संचालित आवासीय गृहों में उनके रहने की खाने पीने की सभी सुविधाऐं प्राप्त कराई जाती है।

40 प्रतिशत से अधिक विकलांगता वाले मानसिक विमंदित बालक/बालिकाऐं।  
विशेष विद्यालय
ऐसे बच्चों के लिऐ स्वयंसेवी संस्थाओं द्वारा संचालित निःशुल्क विद्यालयों में शिक्षा देने का प्रावधान राजस्थान सरकार ने उपलब्ध कराया गया है।    

 

युवाओं हेतु योजनाऐं

योजना का नाम योजना की जानकारी लाभान्वित हेतु योग्यता संबंधित अधिकारी संपर्क सू़त्र फॉर्म
नवजीवन योजना
ऐसे व्यक्ति/परिवारो को उक्त कार्य से विमुक्त करने हेतु राजस्थान सरकार द्वारा उनके गांव में आधारभूत सुविधाऐं मुहैया कराना तथा स्वरोजगार हेतु ऋण/अनुदान सहायता दिये जाने का प्रावधान है। ऐसे व्यक्ति/परिवार जो अवैध शराब के उत्पादन एवं भण्डारण तथा विक्रय में लिप्त हो। जिला परिवीक्षा एवं सामाज कल्याण अधिकारी

05642- 240878  

 

अधिक जानकारी के लिए संपर्क करें-

समाज कल्‍याण अधिकारी,

सामाजिक न्‍याय एवं अधिकारिता विभाग, धौलुपर

संपर्क - 05642 240878

वेबसाईट- http://www.sje.rajasthan.gov.in/